इल्ज़ाम Ilzaam Lyrics – Badshah | 3:00 AM Sessions

Published by songslyricshindi.in on

ilzaam lyrics badshah

Ilzaam Badshah Song Lyrics – Badshah New Song Lyrics | Badshah 3:00 AM Sessions

Ilzaam Lyrics in Hindi, sung by Badshah. This Ilzaam song is written and composed by Badshah. Mixing & Mastering is perform by Aditya Dev. And the Ilzaam song video is Edit by Ravi Chellaramani. The lyrics of ilzaam badshah song lyrics is written down below, you can also listen & read badshah last song Genda Phool.


Badshah ILZAAM Song Lyrics Credits :
Song :Ilzaam
Singer :Badshah
Lyrics :Badshah
Mix & Mastering :Aditya Dev

Ilzaam Song Lyrics in Hindi – Badshah Song Lyrics | Badshah 3:00 AM Sessions

कल तक सबका था मैं प्यारा
आज चोर बन गया
गाना हिट फिर भी इनके लिए
शोर बन गया

गंदे रैप करने वाला
Sellout wh..re बन गया
सही बाँदा होता था पर
अब कुछ और बन गया

भाई पैसे वाला है
सारे पेड views है
बादशाह ने दी डोनेशन
हट फेक न्यूज़ है

चौबीस घंटे रहता हाई
एक नंबर का नशेड़ी
स्टेज पे चढ़ने से पहले
पिता ग्रे गूसे है

सारे कल्चर की माँ बहन
एक कर डाली
Flok गाना सैंपल करके
मिस्टेक कर डाली

इस से अच्छा तो वो
दूसरा सिंगर होता था
इसने तो भाई सारी हदें
ब्रेक कर डाली

इनकी नज़रों में मेरा
हर एक गाना पिटता है
L.. de जैसे शक्ल है
गेंदे जैसे दिखता है
म्यूजिक कॉपी करता है
फुद्दू रैप लिखता है
दस साल इंडस्ट्री में
ऐसे कोई कैसे टिकता है
मुझे समझाओ

करता रहा हु जो भी मेरा काम है
बदनाम हूँ क्योंकि मेरा नाम है
ये जाल बिछाया सारे आम है
आज मुझ पर लगे इल्ज़ाम है

करता जा रहा हु जो भी मेरा काम है
बदनाम हु क्योंकि मेरा नाम है
ये जाल बिछाया सारे आम है
आज मुझ पर लगे इल्ज़ाम है

अब बात कुछ ऐसे यूट्यूब चैनलों की
जिनको मुझसे कुछ ज़्यादा ही दिक्कत हो रखी है
इनके मुंह लगने का कोई फायदा ना लगा मुझे
इसीलिए इनकी इतनी हिम्मत हो रखी है

Facts जाने बिना गाली पे गाली वाह
बादशाह तो एक दम जाली है जाली वाह
गाने फ्लॉप हैं फिर भी सारी जगह no.1
इस बात पे तो बनती है ताली वाह

ऊपर खाली क्या या फिर गूं है
या बस पैसों के लिए खुलता मुंह है
चोर मैं नै चोर तू है
तेरे मुंह और काम दोनों पे ही थू है

नाम कमाया क्योंकि करी मैंने मेहनत
आज जो भी हूँ मैं ऊपर वाली की है रेहमत
चेहरे पे हंसी है दिल में दर्द हैं हज़ार
मरके भी मज़ा देगी तुम्हे मेरी मज़ार

करता जा रहा हु जो भी मेरा काम है
बदनाम हु क्योंकि मेरा नाम है
ये जाल बिछाया सारे आम है
आज मुझ पर लगे इल्ज़ाम है

करता जा रहा हु जो भी मेरा काम है
बदनाम हु क्योंकि मेरा नाम है
ये जाल बिछाया सारे आम है
आज मुझ पर लगे इल्ज़ाम है


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: